college ki copy kaise check hoti hai : कॉलेज Exam के ये अनोखे राज़ आप नहीं जानते होंगे!

college ki copy kaise check hoti hai | कॉलेज उत्तर पुस्तिका कैसे चेक होती है | सेमेस्टर एग्जाम में फेल हो जाए तो क्या करें | Back कैसे लगती है, year back लगने से कैसे बचाएं

दोस्तों स्कूल से ही सुनते आ रहे हैं कि बोर्ड एग्जाम काफी टफ होते हैं और इसकी कॉपियों को चेक करने के लिए भी कड़ी निगरानी रखी जाती है, लेकिन इस स्कूल के बाद जब कॉलेज लाइफ आती है तू कभी कबार हमारे मन में यह सवाल भी पैदा होता है कि आखिर कॉलेज की उत्तर पुस्तिकाएं कैसे चेक की जाती है, इस प्रकार कॉलेज के विद्यार्थियों की सेमेस्टर एग्जाम वाली कॉपियां चेक करते हैं, नंबर ज्यादा मिलते हैं या नहीं, फेल हुए विद्यार्थियों को पास किया जाता है या नहीं, यह सभी सवाल आपके मन में आते होंगे, जिसका जवाब आपको जल्द ही मिलने जा रहा है l

Join whatsapp group Join Now
Join Telegram group Join Now

college ki copy kaise check hoti hai

आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि कॉलेज की कॉपियां कैसे चेक की जाती हैं l बहुत से विद्यार्थी जो कॉलेज में शुरू शुरू में प्रवेश ले लेते हैं तो उनके मन में भी अक्सर यह सवाल होता है कि हमने तो बोर्ड एग्जाम पास करके कॉलेज में एडमिशन लिया है, तो आखिर कॉलेज की सेमेस्टर एग्जाम की कॉपी कैसे जांच की जाती है, कहीं उन्हें अनुत्तीर्ण तो नहीं किया जाता, तो इन सभी प्रश्नों का जवाब आपको इस आर्टिकल में दिया जाएगा l

college ki copy kaise check hoti hai
college ki copy kaise check hoti hai

कॉलेज उत्तर पुस्तिका कैसे चेक होती है

दोस्तों जिस प्रकार कक्षा दसवीं एवं कक्षा 12वीं की बोर्ड परीक्षा होती है जिसका संबंध राज्य के बोर्ड कार्यालय से होता है, उसी प्रकार कॉलेज में होने वाली परीक्षाओं का संबंध बड़ी-बड़ी यूनिवर्सिटी से होता है l बता दें कि यह यूनिवर्सिटी ही तय करती है कि प्रश्न पत्र में किन किन प्रश्नों को देना है और किस प्रकार परीक्षाएं आयोजित करना है l सेमेस्टर एग्जाम एवं एग्जाम फॉर्म फॉरवर्ड करने का सारा कार्य यूनिवर्सिटी के माध्यम से ही किया जाता है, लेकिन आपको बता दें कि कॉपियों की जांच करने के लिए केवल यूनिवर्सिटी की ही जिम्मेदारी नहीं होती, बल्कि संबंधित कॉलेज में ही कॉपियों का वितरण किया जाता है l

जिले के कॉलेज की उत्तर पुस्तिकाओं को आसपास के ही प्रोफेसर से जांच कराया जाता है और उसके बाद ऑनलाइन मार्क्स को चढ़ाते हैं l सारे प्राप्त अंकों की जानकारी यूनिवर्सिटी तक पहुंचाई जाती है और उसके बाद यूनिवर्सिटी ही आपका रिजल्ट तय करती है l दोस्तों बता दें कि उत्तर पुस्तिका की जांच में कॉलेज का कोई ज्यादा बड़ा रोल नहीं होता, हां लेकिन उत्तर पुस्तिकाओं को अलग-अलग क्षेत्रों में वितरण किया जाता है l जिस कॉलेज में एग्जाम होता है जरूरी नहीं कि उसी कॉलेज में उत्तर पुस्तिकाओं की जांच की जाए l

सेमेस्टर एग्जाम में फेल हो जाए तो क्या करें

दोस्तों आपको बता दे की स्कूल लाइफ से हटकर कॉलेज लाइफ होती है l स्कूल में हमें 4 से 5 लाइन लिखने पर भी 2 से 3 अंक मिल जाया करते थे, लेकिन कॉलेज का सिस्टम ऐसा नहीं है l कॉलेज में हमें 2 से 3 अंक प्राप्त करने के लिए भी कम से कम 1 पेज भरना होता है l अब यदि कोई विद्यार्थी कॉलेज की पढ़ाई को सीरियसली नहीं करता, तो मुमकिन है कि वह कुछ ना कुछ सब्जेक्ट में फेल हो जाएगा, जिसके बाद उसके मन में सवाल हो जाएगा कि आखिर सेमेस्टर एग्जाम फेल हो जाए तो क्या करें l

college ki copy kaise check hoti hai : यदि आप सेमेस्टर के एग्जाम में शेयर हो जाते हैं तो घबराने की जरूरत नहीं है, आपको पुनः मौका दिया जाएगा कि आप दोबारा से यह एग्जाम क्लियर करें l लेकिन ध्यान रहे की इसके लिए आपको अलग से मौका नहीं दिया जाएगा बल्कि अगले सेमेस्टर के साथ ही आपको पिछले सेमेस्टर का एग्जाम देना होगा l और यदि दूसरी बार में भी आप पास नहीं हो पाते हैं, तो आपको फिर से अगले सेमेस्टर के साथ पिछले सेमेस्टर का एग्जाम देने का मौका दिया जाएगा l

Back कैसे लगती है, year back लगने से कैसे बचाएं

दोस्तों कॉलेज में पढ़ते हो क्या विद्यार्थियों ने यह जरूर सुना होगा कि Back लग जाती है, year back लग जाती है, semester back लग जाती है, लेकिन आखिरकार back का मतलब क्या होता है यह समझ नहीं आता l तो दोस्तों हम आपको बता देगी जब आप फर्स्ट सेमेस्टर का एग्जाम देंगे और किसी भी एक सब्जेक्ट में यदि आप फेल हो जाते हैं तो यह माना जाएगा कि आपकी उस विषय में back लग गई है जिसे क्लियर करने के लिए आपको अगले सेमेस्टर के साथ इस सब्जेक्ट का एग्जाम भी देना होगा l

बात करें कि ईयर बैक कैसे लगती है, तो दोस्तों अलग-अलग राज्यों के नियम भी अलग-अलग होते हैं l सामान्यता माना जाता है कि यदि कोई विद्यार्थी फर्स्ट ईयर में फेल हो जाता है तो उसकी year back नहीं लगती, लेकिन यदि वह 2nd year pass कर लेता है और 1st year में पांच से ज्यादा विषय में वह फेल रहता है तो अब उसको 3rd year में एडमिशन नहीं दिया जाता, पहले उसे पुराने सारे विषय के एग्जाम क्लियर करना होगा l

यदि आप Year Back लगने से बचना चाहते हैं तो आपको कोशिश यही करना है कि 1st and 2nd semester के सारे विषय में आप पास हो जाएं, यदि एक या दो विषय में आप फेल हो भी जाते हैं तो आपकी Year Back नहीं लगेगी, बशर्ते आप उसे जल्दी से जल्दी क्लियर कर दें l

MP Board, UP Board, CG Board, Bihar Boar, Rajasthan Board etc & MP College, Marksheet Correction etc से संबंधित सभी जानकारियों के लिए हमारी वेबसाइट touseefacademy.com से जुड़े रहे और अपनी जानकारी में वृद्धि करते रहें l हमसे जुड़ने के लिए आप निम्न लिंक पर क्लिक करें l

WhatsApp GroupClick Here
Telegram GroupClick Here

Leave a Comment